एयर कंडीशन कमरों में बैठकर नहीं बल्कि गांव पहुंच लोगों के बीच काम कर रही है हमारी सरकार : हेमन्त सोरेन

बिरसा भूमि लाइव

  • मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन बोकारो के चास स्थित सोनाबाद में आयोजित “आपकी योजना, आपकी सरकार, आपके द्वार’ कार्यक्रम में शामिल हुए
  • मुख्यमंत्री ने ₹4923.29 लाख की 15 योजनाओं का उद्घाटन एवं ₹11, 898.59 लाख की 193 योजनाओं का शिलान्यास किया
  • 18, 502 लाभुकों के बीच ₹32156.79 लाख की परिसंपत्तियां का वितरण हुआ
  • मुख्यमंत्री ने 17 अनुकम्पा पर एवं DMFT के तहत 72 पारा मेडिकल स्टॉफ को नियुक्ति पत्र सौंपा
  • 1932 आधारित नियोजन नीति के लिए मेरा प्रयास जारी रहेगा
  • राज्य की खुशहाली के लिए तिनका-तिनका जोड़ रहा हूं
  • 20 वर्ष में 15 लाख लोगों को मिला पेंशन, पिछले 04 वर्ष में पेंशन पाने वालों की संख्या बढ़कर 37 लाख हुई
  • 20 वर्ष में 08 लाख किसानों को मिला केसीसी, पिछले 04 वर्ष में 20 लाख किसान भाई केसीसी से आच्छादित

रांची : आपकी सरकार दिल्ली, रांची या फिर एयर कंडीशनर में बैठकर नहीं, बल्कि गांव-गांव पहुंच कर लोगों के लिए काम कर रही है। किसी ने नहीं सोचा था कि सरकार राज्य के लोगों के द्वार तक जाएगी, लेकिन आज गांव-गांव पदाधिकारी योजनाएं लेकर लोगों के द्वार तक पहुंच रहे हैं। मेरा प्रयास है, इस राज्य के हर द्वार तक योजना पहुंचे। इसके लिए सरकार विगत तीन वर्ष से शिविर का आयोजन कर जरूरतमंदों को योजनाओं का लाभ दे रही है। राज्य में जब से हमारी सरकार वजूद में आई है हम यहां के आदिवासी-मूलवासी के हक-अधिकार को संरक्षित करने के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रहे हैं। हमारी सरकार ने आदिवासी-मूलवासी के हक-अधिकार के लिए विधानसभा से 1932 आधारित नियोजन नीति पारित कराया। लेकिन जानबूझकर इसमें कानूनी अड़चन लगा दिया गया, परंतु 1932 आधारित नियोजन नीति के लिए हमारा प्रयास जारी रहेगा। ये बातें मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कही। मुख्यमंत्री आज बोकारो के चास स्थित सोनाबाद में आयोजित ‘आपकी योजना, आपकी सरकार, आपके द्वार’ कार्यक्रम में बोल रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा राज्य की समृद्धि के लिए सरकार तिनका-तिनका जोड़ रही है।

04 वर्ष में 37 लाख को पेंशन, 20 लाख को केसीसी : मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य गठन के बाद ही सभी जरूरतमंद को पेंशन योजना से जोड़ दिया जाना था। लेकिन 2019 से पूर्व तक बुजुर्ग, निराश्रित, दिव्यांग पेंशन के लिए तरसते रहे। वर्ष 2019 तक राज्य में मात्र 15 लाख लोगों को ही पेंशन का लाभ दिया जा रहा था। आपकी सरकार ने मात्र चार वर्ष में 37 लाख लोगों को पेंशन देने का कार्य किया। आज बुजुर्ग, निराश्रित, दिव्यांग को पेंशन से जोड़ा गया। वर्ष 2019 के पूर्व किसानों के आंसू पोछने का काम किसी ने नही किया बल्कि उन्हें रुलाने का कार्य किया गया। राज्य गठन के बाद पिछले 20 वर्ष में 08 लाख किसानों को केसीसी से जोड़ा गया। वहीं हमारी सरकार ने 04 वर्ष में 20 लाख किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) से आच्छादित किया।

बेटियों की पढ़ाई नहीं छूटे, सरकार कर रही सहयोग : मुख्यमंत्री ने कहा कि सावित्रीबाई फूले किशोरी समृद्धि योजना का उद्देश्य राज्य की बेटियों को शिक्षा से जोड़े रखना है। इसके लिए राज्य की करीब आठ लाख बेटियों को योजना से जोड़ दिया गया है। इनकी उच्च शिक्षा के लिए भी सरकार सहयोग कर रही रही। गुरूजी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना लागू करने का निर्णय लिया गया है। इससे राज्य के छात्र- छात्राओं को Engineering, Medical, Law, Research आदि में शिक्षा प्राप्त करने में सुविधा हो सकेगी। 15 लाख रुपए तक का ऋण मिल सकेगा। राज्य सरकार इसके लिए गारंटर बनेगी। समय के साथ शिक्षा पद्धति के अनुसार सरकार गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की उपलब्धता सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है।

पूर्व में मिल रहा था बीमारू पशु, अब बीमायुक्त पशु : मुख्यमंत्री ने कहा कि मौसम में लगातार बदलाव हो रहा है, जिसका सर्वाधिक प्रभाव किसानों पर पड़ता है। किसानों को खेती-बाड़ी के अतिरिक्त आर्थिक लाभ हेतु बिरसा हरित ग्राम योजना, मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना, दीदी बाड़ी योजना का संचालन किया जा रहा है, जिसका लाभ किसान अवश्य लें। साथ ही, पशुधन विकास योजना के तहत गाय के अतिरिक्त भैंस भी सरकार दे रही है। पूर्व में किसानों को बीमारू पशु दिया जाता था। अब हमारी सरकार यहां के किसानों बीमाकृत पशु दे रही है ताकि किसी तरह की अनहोनी होने पर बीमा राशि का भुगतान कर पशुपालकों को सहारा दिया जा सके।

ये भी जानें…

#बोकारो में 850 किमी ग्रामीण सड़क एवं पथ निर्माण विभाग के तहत 200 किमी सड़क निर्माण की स्वीकृति।
#आयोजित कार्यक्रम में बिरसा सिंचाई कूप योजना के तहत 3461, बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत 298, मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत 434, साईकिल योजना के तहत 2210, मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना के तहत 4515, सावित्रीबाई फूले किशोरी समृद्धि योजना के तहत 1250 लाभुकों को योजना से आच्छादित किया। इसके अतिरिक्त अन्य योजनाओं का लाभ लाभुकों को मिला।

बोकारो जिला में वर्ष 2022- 2023 में अबतक…

#बिरसा सिंचाई कूप संवर्द्धन योजना अंतर्गत वर्ष 2023 -23 में 3982 योजनाओं को स्वीकृति।
#अब तक कुल 201 बीर शहीद पोटो हो खेल विकास योजना अंतर्गत निर्माण कार्य पूर्ण।
#कुल 92 आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण पूर्ण।
#वर्ष 2023 में सर्वजन पेंशन योजना के तहत 23,825 नए लाभुकों को जोड़ा गया, जिला में कुल 1,75,478 लाभुकों को योजना का लाभ मिल रहा है।
#मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत कुल 33,426 किसानों को लाभ
#झारखण्ड राज्य फसल राहत योजना के तहत कुल 2472 किसानों को लाभ।
#वर्ष 2023 में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ी जाति छात्रवृत्ति मद में कुल 1,54,042 छात्र-छात्राओं को DBT के माध्यम से कुल ₹33 करोड़ 17.95 लाख का भुगतान कर लाभान्वित किया गया
#वर्ष 2023 में प्रवेशिकोत्तर/प्रावैधिकी छात्रवृत्ति हेतु On-line प्राप्त आवेदनों पर कुल 11,287 लाभुकों को स्वीकृति देते हुये DBT के माध्यम से कुल ₹16 करोड़ 66 हजार 900 का भुगतान
#वर्ष 2023 में मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना अन्तर्गत कुल 902 लाभुकों को ₹37,92,32,964 का स्वरोजगार हेतु ऋण की स्वीकृति दी गई
#सोना सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना के तहत 3,07,714 परिवार को लाभ मिला

इस अवसर पर मंत्री सत्यानंद भोक्ता, मंत्री बेबी देवी, बेरमो विधायक कुमार जयमंगल सिंह, राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त सह पूर्व विधायक योगेन्द्र महतो, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, पुलिस उप महानिरीक्षक, बोकारो प्रमंडल, जिला परिषद अध्यक्ष, उपायुक्त बोकारो, पुलिस अधीक्षक बोकारो एवं हजारों की संख्या में लोग उपस्थित थे।

Related Articles

Stay Connected

1,005FansLike
200FollowersFollow
500FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles