कारा, खनन एवं सड़क सुरक्षा से संबंधित हुई संयुक्त समीक्षात्मक बैठक

बिरसा भूमि लाइव

  • सड़क दुर्घटना के दौरान सहायता करने वाले व्यक्तियों को जिला प्रशासन द्वारा किया जाएगा सम्मानित : उपायुक्त

गुमला: शनिवार को उपायुक्त कर्ण सत्यार्थी की अध्यक्षता में कारा प्रबंधन, खनन एवं सड़क सुरक्षा से संबंधित एक संयुक्त समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। बैठक में उपायुक्त ने सभी विषयों पर बिंदुवार समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

कारा अंतर्गत मूलभूत सुविधाओं को रखे दुरुस्त: उपायुक्त : कारा प्रबंधन की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने कारा अंतर्गत दिए जाने वाले सुविधाओं एवं कारा अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी ली। कारा अधीक्षक ने बताया कि कारा परिसर अंतर्गत एक अस्पताल का निर्माण किया जा रहा है जिसका कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। जिसका कार्य भवन निर्माण विभाग द्वारा किया जा रहा है। उपायुक्त ने लंबित कार्यों को अविलंब पूर्ण करते हुए अस्पताल का संचालन प्रारंभ करने का निर्देश दिया। वहीं इसके अलावा कारा अंतर्गत इनक्लोजर वॉल, पेरीमीटर वॉल, वॉच टावर आदि की मरम्मती व निर्माण कार्य किया जा रहा है जिसका कार्य भी भवन निर्माण विभाग द्वारा ही किया जा रहा है।

कारा अधीक्षक ने कार्य पूर्ण करने में लगातार विलम्ब होने की स्थिति से उपायुक्त को अवगत करवाया जिसपर उपायुक्त ने सम्बन्धित विभाग के सहायक अभियंता पर नाराजगी व्यक्त की साथ ही लंबित कार्यों को ससमय पूर्ण करने का निर्देश दिया अन्यथा कार्रवाई की जाएगी। कारा अधीक्षक द्वारा वहां के टूटे हुए बाथरूम एवं अन्य निर्माण कार्यों के लिए उपायुक्त से अनुरोध किया। जिसपर उपायुक्त ने सहमति व्यक्त की । इसके अलावा कारा की सुरक्षा व्यवस्था , कैमरे की स्थिति , इंटरनेट एवं कॉल करने हेतु नेटवर्क की स्पीड आदि की भी समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया। उन्होंने कारा अंतर्गत मूलभूत सुविधाओं को दुरुस्त रखने की भी बात कही।

अवैध तस्करी पर जिला प्रशासन की कड़ी नजर : माइनिंग से संबंधित समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने बालू तस्करी एवं पत्थरों की तस्करी करने वालो पर कड़ी नजर रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि अवैध रूप से जंगल के रास्ते से बालू, पत्थर अथवा लकड़ी आदि की तस्करी करने वाले के पकड़े जाने पर फॉरेस्ट एक्ट भी लगाएं जाएंगे एवं उसपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उपायुक्त ने ईंट भट्ठों, बंगला भट्ठों आदि पर पर औचक जांच करते हुए अवैध भट्ठों को सील करने का निर्देश दिया वहीं जिन बंगला भट्ठों में बाल मजदूरी कराई जाती है वैसे भट्ठों को भी सील करते हुए उनपर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही। खनन विभाग में नए होम गार्ड नियुक्त करने का निर्देश। वहीं बड़े गाड़ियों की चेकिंग नियमित रूप से करने की बात कही।

सड़क सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिले के सभी विद्यालयों में नियमित जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन करने का निर्देश : सड़क सुरक्षा की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने चिन्हित ब्लैक स्पॉट्स की जानकारी ली। जिसपर जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि जिले में कुल 8 ब्लैक स्पॉट को चिन्हित किया गया था , जहां सड़क सुरक्षा के दृष्टिकोण से कई आवश्यक बदलाव किए गए हैं जिसके उपरांत उक्त क्षेत्रों में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में कमी आई है। जिसपर उपायुक्त ने उक्त सभी ब्लैक स्पॉट क्षेत्रों में तुलनात्मक सड़क दुघटनाओं की संख्या का विश्लेषित रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश दिया। सड़क दुर्घटना के दौरान सहायता करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित करने का निर्देश दिया गया साथ ही उनके द्वारा किए गए व्यय राशि भी देने की बात कही। जिले भर के विद्यालयों में सड़क सुरक्षा के प्रति नियमित जागरूकता अभियान चलाने का निर्देश दिया गया। इसके अलावा उपायुक्त द्वारा अन्य कई विषयों पर चर्चा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया।

इस दौरान बैठक में जिला वन प्रमंडल अधिकारी, पुलिस अधीक्षक गुमला, एसडीओ सदर, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला खनन पदाधिकारी, कारा अधीक्षक, संबंधित विभागों के कार्यपालक अभियंता एवं सहायक अभियंता सहित संबंधित विभागों के पदाधिकारी एवं कर्मी मौजूद रहें।

Related Articles

Stay Connected

1,005FansLike
200FollowersFollow
500FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles