व्यापारियों को कोई परेशानी हो, तो बेझिझक आयें : डॉ इरफान

बिरसा भूमि लाइव

रांची : व्यापार जगत से जुडी बिंदुओं पर चर्चा के लिए आज जामताड़ा के विधायक डॉ इरफान अंसारी ने चैंबर भवन में उपस्थित होकर, व्यापारियों की समस्याओं को जाना। प्रदेश के समसामयिक मुद्दों पर मुखर होकर मजबूती से अपनी बात रखने के लिए चैंबर पदाधिकारियों ने विधायक को सम्मानित भी किया। कृषि शुल्क के विरोध में व्यापारियों का साथ देने के लिए चैंबर अध्यक्ष किशोर मंत्री ने विधायक को धन्यवाद देते हुए मार्केटिंग बोर्ड को भंग कर, इसका समायोजन कृषि विभाग में कराने का आग्रह किया। कृषि मंडियों के इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट, मंडियों में मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता, मंडियों में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही व्यवसायिक वाहनों के बकाया टैक्स की प्राप्ति हेतु वन टाइम सेटलमेंट स्कीम को लाने का आग्रह किया। उन्होंने चैंबर के बढते स्वरूप को देखते हुए स्मॉर्ट सिटी क्षेत्र में सब्सिडाईज्ड दर पर एक एकड भूमि उपलब्ध कराने, प्रदेश की विधि-व्यवस्था को दुरूस्त करने, नई टूरिज्म नीति के प्रति जागरूकता कार्यशालाओं का आयोजन कराने और महिला उद्यमिता के विकास हेतु अटल वेंडर मार्केट की तर्ज पर प्रदेश के सभी जिलों में महिला उद्यमी मार्केट के निर्माण को जरूरी बताया।

पूर्व अध्यक्ष विनय अग्रवाल ने कहा कि चैंबर किसी पार्टी विशेष का है, इस मिथ्य को बदलना होगा। चैंबर किसी पार्टी विशेष का नहीं है क्योंकि चैंबर सदैव सरकार के साथ चलता है। वर्तमान सरकार के द्वारा प्रदेश के विकास से जुडे मुद्दों पर झारखण्ड चैंबर को विश्वास में लेकर कार्य करने के प्रयासों की उन्होंने सराहना करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार से व्यापारी और उद्यमी समाज की अपेक्षाएं काफी बढ़ी हैं। प्रवक्ता ज्योति कुमारी ने बैठक का संचालन करते हुए कहा कि छोटे-छोटे व्यापारी अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं, इन्हें प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है।

विधायक डॉ इरफान अंसारी ने चैम्बर अध्यक्ष द्वारा सुझाये गए सभी मामलों में मुख्यमंत्री से वार्ता के लिए आश्वस्त किया। महामारी के समय व्यापारियों के योगदान की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि बिना व्यापारी समाज के सहयोग के विकास कार्य संभव नहीं है। कृषि बिल के विरोध में झारखण्ड चैंबर के निर्णयों का समर्थन करते हुए उन्होंने विश्वास दिलाया कि झारखण्ड में कोई भी ऐसा बिल नहीं लाया जायेगा, जिससे व्यापारियों को परेशानी हो। महिला उद्यमी मार्केट के निर्माण की मांग का समर्थन करते हुए इस प्रस्ताव पर कार्ययोजना बनाने की भी बात कही। राज्य के आर्थिक विकास एवं जनहित से जुडे मुद्दों पर मजबूती से कार्य कर रहे झारखण्ड चैंबर ऑफ कॉमर्स के प्रयासों की भी उन्होंने प्रशंसा की। मौके पर ही चैंबर अध्यक्ष ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विधायक की वार्ता संथाल परगना प्रमंडल में स्थित चैंबर के पदाधिकारियों से कराई। जिला चैंबर के पदाधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं से विधायक को अवगत कराया जिसपर समुचित कार्रवाई के लिए आश्वस्त किया गया।

बैठक में चैंबर अध्यक्ष किशोर मंत्री, उपाध्यक्ष आदित्य मल्होत्रा, अमित शर्मा, महासचिव डॉ. अभिषेक रामाधीन, सह सचिव रोहित पोद्दार, शैलेष अग्रवाल, प्रवक्ता ज्योति कुमारी, पूर्व अध्यक्ष विनय अग्रवाल, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष प्रीतम गाडिया, सदस्य चेतन भरतीया, अर्से आलम, पंकज पंडित, मुस्ताक अली, गजेंद्र कोठारी, प्रदीप बजला, तारकेश्वर सिंह, निर्मल जैन, संजीव खतरी, संजय अग्रवाल, जयप्रकाश सिन्हा, रवि केसरी, विकास झाझरिया, संतोष अग्रवाल, किशन अग्रवाल, राजीव चौधरी, मनोज मिश्रा, माला कुजूर के अलावा देवघर, गोड्डा, जामताडा, साहेबगंज, पाकुड, महागामा, मधुपुर के चैंबर पदाधिकारी शामिल थे।

Related Articles

Stay Connected

1,005FansLike
200FollowersFollow
500FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles