वित्त क्षेत्र के विशेषज्ञ होने के कारण चार्टर्ड एकाउंटेंट्स की हर क्षेत्र में जरुरत : डीआईजी

बिरसा भूमि लाइव

रांची : दी इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ़ इंडिया की स्टूडेंट्स स्किल्स इंरीचमेंट बोर्ड, बोर्ड ऑफ़ स्टडीज (ऑपरेशन) के द्वारा आज से रांची के सीएमपीडीआई लिमिटेड स्थित मयूरी ऑडिटोरियम में दो दिवसीय मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस का आयोजन किया जा रहा है। इस मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस का विधिवत उद्धघाटन करते हुए मुख्य अतिथि और डीआईजी (विशेष शाखा), रांची मनोज चौथे, आईपीएस ने 600 से ज्यादा उपस्थित सीए विधार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा की यूपीएससी की तरह ही सीए कोर्स भी विश्व की एक मुश्किल कोर्स में से एक है और इसमें उत्तीर्ण होने के लिए मेहनत के अलावा और कोई उपाय नहीं है। उन्होंने बताया कि एक चार्टर्ड एकाउंटेंट्स कि जरुरत आज हर जगह सामान रूप से हैं उन्होंने बताया कि एनआईए, ईडी या सीबीआई जैसे जांच एजेंसियां वित्त सम्बन्धी पहलुओं कि जाँच के लिए चार्टर्ड एकाउंटेंट्स कि सेवाओं का भरपूर उपयोग करते है।

विशेष अतिथि और पूर्व राज्यसभा सदस्य महेश पोद्दार ने कहा कि एक इंडस्ट्रियलिस्ट के रूप में उन्हें हमेशा चार्टर्ड एकाउंटेंट्स की सेवाओं की जरुरत पड़ती है। उन्होंने उपस्थित सीए विधार्थियों को सलाह देते हुए कहा कि सीए कोर्स उत्तीर्ण करना थोड़ी मुश्किल है इसलिए सीए के विधार्थियों को सीए के साथ-साथ अपने करियर के लिए दूसरा ऑप्शन भी रखना चाहिए, हालांकि ऐसे विद्यार्थी जो सीए उत्तीर्ण नहीं कर सकें लेकिन जिन्होंने सीए कि ट्रेनिंग (आर्टिकलशिप) अच्छा से किया है वे आज बड़े बड़े कंपनियों और विभागों में एकाउंटेंट्स के रूप में या स्वतंत्र रूप से टैक्स प्रैक्टिसनर के रूप सफल हैं। उन्होंने कहा की उन्हें एक साथ इस कांफ्रेंस में इतने सीए विद्यार्थी यह देखकर उन्हें काफी ख़ुशी हो रही है की रांची शहर भी सीए विद्यार्थियों के एक महत्वपूर्ण सेंटर के रूप में उभर रही है।

रीजनल कौंसिल सदस्य सीए मनीषा बियानी ने एक दो दिवसीय मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस के आयोजन को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा की इस तरह के कांफ्रेंस अधिकतर बड़े शहरों में आयोजित होती है लेकिन रांची में इसका आयोजन यह दिखता है की सीए इंस्टिट्यूट हर जगह के अपने विद्यार्थियों को सामान सुविधा मुहैया करने में तत्पर रहती है साथ ही इस मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस के सफल आयोजन के लिए इंस्टिट्यूट के रांची शाखा के पदाधिकारियों और सीए स्टूडेंट्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों को उनके मेहनत के लिए भूरी-भूरी प्रशंसा किया।

इंस्टिट्यूट के रांची शाखा अध्यक्ष सीए पंकज मक्कड़ ने कहा की रांची शाखा का यह हमेशा प्रयास रहा है की रांची के सीए के विद्यार्थियों को बड़े शहरों की तरह की सुविधा और ट्रेनिंग दिया जाय ताकि सीए उत्तीर्ण करने के उपरांत वे हर तरह से बड़े शहरों के विद्यार्थियों के समकक्ष हो सकें। इस मेगा कांफ्रेंस के आयोजन का भी यही उद्देश्य है ताकि यंहा देश के विभिन्न भागों से आये सीए विद्यार्थियों के साथ मिलकर इस कांफ्रेंस में विभिन्न विषयों में अपना तैयार किया गया पेपर्स प्रस्तुत कर सकें और उन पेपर्स पर देश के नामी विशेषज्ञ उन्हें मार्गदर्शन करें। साथ ही इस मेगा कांफ्रेंस के माध्यम से सीए विद्यार्थियों को बहुत से नए या बाहर के सीए विद्यार्थियों की तैयारियों की जानकारी भी प्राप्त होती है जो उन्हें सीए उत्तीर्ण करने में काफी मददगार साबित होती है।

रांची शाखा के सीए स्टूडेंट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सीए निशांत मोदी ने इस मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस के उद्धघाटन में अपने स्वागत भाषण में मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि, रांची शाखा के पदाधिकारियों, पूर्व अध्यक्षों और हॉल में खचाखच भरे सीए विद्यार्थियों का स्वागत करते हुए दो दिवसीय मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस के आयोजन का उद्देश्य और विषयों पर विस्तृत परिचर्चा करते हुए कहा कि यह आयोजन रांची के सीए विद्यार्थियों के लिए ज्ञान अर्जन के उद्देश्य से एक मील का पत्थर साबित होगा। इस कांफ्रेंस के माधयम से सीए विद्यार्थियों के द्वारा प्रस्तुत विभिन्न विषयों का पेपर्स और उसपर उपस्थित देश के नामी विशेषज्ञों की मार्गदर्शन के द्वारा इस मेगा कांफ्रेंस में भाग ले रहे सीए विद्यार्थियों को अपने तैयारी के लिए महत्वपूर्ण टिप्स प्राप्त होंगे।

इस मेगा कांफ्रेंस के पहले दिन की प्रथम तकनिकी सत्र में संदेश अग्रवाल, अनामिका कुमारी और श्वेता कुमारी के द्वारा जीएसटी से सम्बंधित विषय पर प्रस्तुत पेपर्स की विवेचना करते हुए बंगलौर से आये विशेषज्ञ सीए आनंद साई प्रसाद ने सराहना करते हुए अपने सुझाव में कहा कि हमें एक विशेषज्ञ के रूप में लॉ कि पूर्ण जानकारी, इससे सम्बंधित विभिन्न केस लॉ और इनके प्रभावों कि जानकारी होना अति आवश्यक है।

दूसरे तकनिकी सत्र में डिजिटल इंडिया से सम्बंधित विषय पर सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर पर कर सम्बन्धी प्रावधान, टैक्स हेवन राष्ट और वर्चुअल डिजिटल एसेट्स पर शुभांशी गारोडिया, अनामिका कुमारी और स्वेता कुमारी के द्वारा प्रस्तुत पेपर पर विवेचना करते हुए पुणे से आये विशेषज्ञ सीए शिवम् पलान ने कहा कि डिजिटल इंडिया आज के समय में हम प्रोफेशनलों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है। आर्टीफिटियल इंटेलिजेन्स के करण अभी हमारे बहुत से कार्य तकनिकी के माध्यम से होने लगे हैं और होने लगेंगे। इस करण सीए इंस्टिट्यूट सीए विधार्थियों के लिए इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी कि शिक्षा पर विशेष जोर दे रही है ताकि आने वाले चार्टर्ड एकाउंटेंट्स डिजिटल इंडिया के माध्यम से उत्पन्न हो रहे नए नए अवसरों का लाभ ले सकें।

आज के तीसरे तकनिकी सत्र में सोसिओ कॉर्प से सम्बंधित नंदिनी भार्गव, जयेश पुरवार और अनुषा अग्रवाल द्वारा प्रस्तुत पेपर्स पर विवेचन करते हुए सीए साक्षी अग्रवाल बताया कि हम छोटे शहरों के चार्टर्ड एकाउंटेंट्स इस विषय न के बराबर प्रैक्टिस करते है लेकिन आज क्लाइमेट चेंज को लेकर पुरे विश्व में चिंतायें दिखाई जा रही है और विकसित देश अपने औधोगिक प्रदुषण के लिए दूसरे अविकसित देशों से कॉर्बन क्रेडिट जैसे समझौते के द्वारा अपने प्रदूषण के बदले फण्ड मुहैया करा रहे हैं ताकि उन देशों के माध्यम से क्लाइमेट चेंज के लिए कार्य हो सके और इसके लिए एक चार्टर्ड एकाउंटेंट्स कि महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

भोपाल से आये विशेषज्ञ ब्रिगेडियर संजय अग्रवाल ने सीए विधार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमें हर कार्य पूरी लगन और परिणाम के विश्वास के साथ करनी चाहिए। जैस प्रकार युद्ध में एक सेना को अपनी कौशल पर विश्वास होता है उसी प्रकार एक विद्यार्थी को अपने परिश्रम पर विश्वास रखनी चाहिए और उसका परिश्रम उसे एक दिन सफलता दिलाता है। असफलता से निरशा हमें अंधेरे में धकेलता है इस करण हर असफलता को हमें एक शानदार प्रयास के रूप में देखना चाहिए और उसे अपने गलतियों के सुधार के लिए एक मौका समझना चाहिए।

आज के तकनिकी सत्रों का समापन रांची शाखा के उपाध्यक्षा सीए श्रद्धा बगला के धन्यवाद ज्ञापन से हुआ। इस मेगा सीए स्टूडेंट्स के कांफ्रेंस के आयोजन में सीए विशाल चंद्रा, सीए रोहित रॉय, सीए राहुल चौधरी, सीए प्रह्लाद कुमार, सीए आशीष कुशवाहा, सीए विवेक जैन, रांची शाखा के सीए स्टूडेंट्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष अक्षत कुकरेती, सचिव श्रुति राज, हर्ष डालमिया, विकाश डालमिया, हर्ष राज मित्तल, ईशा राज बरनवाल, श्रेया पाठक, अनूप कुमार और ऋषब नंदा का महत्वपूर्ण योगदान है।

इस मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस के लिए पुरे भारत से सीए विद्यार्थियों के द्वारा भेजे गए पेपर्स की चुनाव सीए शुभम मोदी और सीए अंकित राजगारिया के द्वारा किया गया। इस मेगा सीए स्टूडेंट्स कांफ्रेंस के उद्धघाटन में रांची शाखा के पूर्व अध्यक्ष सीए पीएन दुबे, सीए सुमित अग्रवाल, सीए उदय जायसवाल अन्य सदस्य सीए कुणाल घेलानी और सीए हर्षित गोयल उपस्थित थे।

Related Articles

Stay Connected

1,005FansLike
200FollowersFollow
500FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles