गुमला जिलांतर्गत पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस

बिरसा भूमि लाइव
  • उपायुक्त सहित जनप्रतिनिधियों एवं पदाधिकारियों ने किया स्वतंत्रता सेनानियों को नमन
  • गुमला जिला के सर्वांगीण विकास एवं प्रत्येक परिवार को आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रतिबद्ध है जिला प्रशासन : उपायुक्त
गुमला : 77वां स्वतंत्रता दिवस गुमला जिलांतर्गत पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्वतंत्रता दिवस का जिलास्तरीय कार्यक्रम परमवीर अल्बर्ट एक्का स्टेडियम सहित जिले के सभी प्रमुख सरकारी कार्यालयों एवं निजी संस्थानों में आयोजित किया गया। जिला स्तरीय मुख्य कार्यक्रम में उपायुक्त कर्ण सत्यार्थी द्वारा ध्वजारोहण  किया गया। उपायुक्त कर्ण सत्यार्थी एवं पुलिस अधीक्षक डॉ.एहतेशाम वकारीब ने संयुक्त रूप से परेड का निरीक्षण किया।
स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपायुक्त  ने 77 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर गुमला जिले के समस्त नागरिकों को हार्दिक बधाई दी। उन्होंने जिले अंतर्गत किए गए बेहतरीन कार्यों के विषय में बताया। उन्होंने आंकड़ेवार विभिन्न विभागों अंतर्गत संचालित योजनाओं की प्रगति से जिले वासियों को अवगत करवाया, जिसमें विभिन्न विभाग जैसे आपदा, समेकित जनजातीय विकास अभिकरण , सामाजिक सुरक्षा, समाज कल्याण विभाग, झारखंड शिक्षा परियोजना, कृषि विभाग, मत्स्य विभाग, भूमि संरक्षण, REO, ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल , आपूर्ति विभाग, मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास, बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना, स्थापना शाखा, खेल विभाग, पर्यटन क्षेत्र, नगर परिषद आदि शामिल थे।
उपायुक्त ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष स्वस्थ के क्षेत्र में सुधार लाने की दिशा में कई कार्य किया गया जिसके तहत 7 नए स्वास्थ्य उपकेंद्रों का  उद्घाटन किया गया। वहीं जिला सदर अस्पताल में डिजिटल एक्सरे मशीन, एवं सिटी स्कैन मशीन लगाया जा रहा है।जिला प्रशासन एवं टाटा स्टील फाउंडेशन के बीच महत्वपूर्ण एमओयू भी साइन किया गया। जिसमें जिले के महिलाओं, बच्चों एवं किशोरियों के स्वास्थ्य के लिए “मानसी प्लस प्रोजेक्ट” की शुरुआत की गई।
जिला स्थापना शाखा अंतर्गत सामान्य अनुकंपा के आधार कर मृत सरकारी सेवकों के कुल 19 आश्रितों को निम्न वर्गीय लिपिक एवं अनुसेवक के पद पर नियुक्ति दी गई।
इस वित्तीय वर्ष डीएमएफटी मद से जिला प्रशासन द्वारा  शिक्षा के मार्ग को शसक्त करने का प्रयास किया गया । जिसके तहत जिला स्तरीय एवं प्रखंड स्तरीय हाई टेक पुस्तकालय का निर्माण किया गया। वहीं जिला मुख्यालय में बॉयज एवं गर्ल्स के लिए 2 अलग अलग बेहतरीन व्यवस्थाओं से परिपूर्ण पुस्तकालय निर्माण किया गया।
वहीं मोटे अनाज को बढ़ावा देने एवं किसानों के आमदनी में वृद्धि लाने के उद्देश्य से जिला योजना विभाग अंतर्गत जिले के 30 हजार एकड़ जमीन पर रागी की खेती करने हेतु 25000 से अधिक कृषकों के बीच 500 क्विंटल से अधिक बीज का वितरण किया गया।
वहीं दूसरी ओर जिले भर में 58 से अधिक ओपन जिम की स्थापना की गई। इतना ही नहीं खेल को बढ़ावा देने के उद्देश्य से जिले में इंडोर स्टेडियम एवं खेल बैंक का भी निर्माण किया गया।  जिले के बांस एवं कुम्हार कारीगरों / परिवारों को उनके आवश्यकता को देखते हुए टूल किट का वितरण भी किया गया वहीं बांस कारीगरों के लिए बांस कारीगर कला केंद्र का निर्माण कर कारीगरों को स्थाई स्थान दिया गया।
 इसके अलावा जिले के अन्य उपलब्धियों से भी उपायुक्त ने सभी को अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन जिले वासियों की चहुंमुखी प्रगति के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है।
स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह के अतिरिक्त उपायुक्त आवास, समाहरणालय ,विकास भवन, गृह रक्षा वाहिनी कार्यालय, जिला परिषद, अनुमण्डल कार्यालय परिसर, पुलिस लाईन चन्दाली, सहित जिला व प्रखण्ड के कार्यालयों में भी ध्वजारोहण किया गया।
स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह के पूर्व गाँधी पार्क स्थित गाँधी जी की प्रतिमा पर, शहीद स्मारक, बिरसा मुण्डा की प्रतिमा, शहीद चौक सहित गुमला शहरी क्षेत्र के अन्य स्थलों पर उपायुक्त द्वारा माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित किया गया।
इसके अलावा मुख्य कार्यक्रम में जिले के विभिन्न पदाधिकारियों एवं कर्मियों द्वारा उत्कृष्ट कार्य किए जाने पर उन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। वहीं जिले में 3 नए डॉक्टर्स की नियुक्ति की गई जिसके लिए उपायुक्त ने अपने हाथों से नव नियुक्त चिकित्सकों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया।
उक्त कार्यक्रम में उपरांत तेलंगा खड़िया स्टेडियम में जिला प्रशासन बनाम नागरिक एकादश के बीच एक फैंसी क्रिकेट मैच का भी आयोजन किया गया।
स्वतंत्रता दिवस के मुख्य कार्यक्रम में उपायुक्त कर्ण  सत्यार्थी, पुलिस अधीक्षक डॉ.एहतेशाम वकारीब, उप विकास आयुक्त हेमंत सती, परियोजना निदेशक आईटीडीए इन्दु गुप्ता, सदर अनुमण्डल पदाधिकारी रवि जैन, अपर समाहर्ता सुधीर कुमार गुप्ता, सिविल सर्जन डॉ. राजू कच्छप, जिला नजारत उपसमाहर्ता सिद्धार्थ शंकर चौधरी, भूमि सुधार उप समाहर्ता सुषमा नीलम सोरेंग,  जिला शिक्षा पदाधिकारी,  जिला शिक्षा अधीक्षक, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा, जिला आपूर्ति पदाधिकारी गुलाम समदानी, जिला कृषि पदाधिकारी, जिला खेल पदाधिकारी सहित सभी जिला स्तरीय तकनीकी/गैर तकनीकी पदाधिकारी, स्थानीय जनप्रतिनिधिगण एवं सैकड़ों की संख्या में स्कूली छात्र छात्राओं के अलावा आम नागरिकों की मौजूदगी रही।

Related Articles

Stay Connected

1,005FansLike
200FollowersFollow
500FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles