दिल्ली से दिली तक : दक्षिण-पूर्वी एशियाई देश तिमोर-लेस्ते में खुलेगा भारतीय दूतावास

बिरसा भूमि लाइव

  • -आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में भारतीय प्रधानमंत्री की घोषणा

जकार्ता : भारत ने अपनी एक्ट ईस्ट नीति पर अमल करते हुए दक्षिण-पूर्वी एशियाई देश तिमोर-लेस्ते में भारतीय दूतावास खोलने का फैसला किया है। इंडोनेशिया के जकार्ता में आयोजित आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यह घोषणा की।

इंडोनेशिया के जकार्ता में 20वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार सुबह पहुंचे। सम्मेलन में उन्होंने तिमोर-लेस्ते के दिली में भारतीय दूतावास खोलने की घोषणा की। इस फैसले का तिमोर-लेस्ते और आसियान के सदस्यों ने गर्मजोशी से स्वागत किया। इस फैसले को भारत की एक्ट ईस्ट नीति के अनुरूप बताया जा रहा है। भारत के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर इस फैसले को आसियान देशों के लिए महत्वपूर्ण करार दिया। यह फैसला इस बात का प्रतिबिंब है कि भारत आसियान को कितना महत्व देता है। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इस फैसले को एक्ट ईस्ट इन एक्शन- दिल्ली टू दिली के रूप में परिभाषित किया।

बाद में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि आसियान नेताओं से मिलकर हमेशा खुशी होती है। उन्होंने कहा कि आसियान-भारत शिखर सम्मेलन बेहतर भविष्य के लिए हमारे साझा दृष्टिकोण और सहयोग का प्रमाण है। हम भविष्य के क्षेत्रों में एक साथ काम करने के लिए तत्पर हैं, जिससे मानव प्रगति में वृद्धि होगी। एक अन्य ट्वीट में भारतीय प्रधानमंत्री ने कहा कि जकार्ता में आयोजित पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में भाग लिया। इस दौरान मानव सशक्तीकरण को आगे बढ़ाने के लिए प्रमुख क्षेत्रों में घनिष्ठ सहयोग बढ़ाने पर सार्थक चर्चा हुई।

Related Articles

Stay Connected

1,005FansLike
200FollowersFollow
500FollowersFollow
- Advertisement -spot_img

Latest Articles